ऐसे मेहंदी लगाये त्योहारों पर

सुहागनों के लिए मेहंदी mehndi का सही अर्थ करवा चौथ के दिन ही होता है। इनके लिए मेहंदी सौभाग्य की निशानी मानी जाती है। भारत में ऐसी मान्यता है कि जिस लड़की के हाथों की मेहंदी ज्यादा गहरी रचती है, उसे अपने पति और परवार से ज्यादा प्यार मिलता है सुहागन होने का सौभाग्य, करवाचौथ की रात हर विवाहिता के माथे पर चांद बनकर चमकता है। इस पर चार चांद लगाने के लिए आपका साज-श्रृंगार भी बेहद खास होता है। लेकिन अगर बात मेहंदी की हो, पिया के नाम की महकती मेहंदी आपके श्रृंगार को एक नया रंग देती है l

इस त्यौहार घर पर लगये हाथो से घुली मेहंदी  mehndi

  • सूखी हीना को चाय की पत्ती या कॉफी के पानी के साथ अच्छी तरह से घोल लें, ताकि इसमें गुठलियां न रह जाए।
  • अब इस घोल को पोलिथीन के कोन में डालकर अपनी मनपसंद डिजाइन हथेलियों पर बनाएं l
  • अगर सूखने के लिए… अधि‍क इंतजार नहीं करना चाहतीं, तो अपनी हथेली को गैस के करीब ले जाकर एक सेंक लगा लें या छत पर हवा में थोड़ी देर बैठ जाये l
  • इसके बाद जब मेहंदी पूरी तरह सूख जाए उस पर नींबू और चीनी के घोल को लगाएं।
  • मेहंदी का रंग गहरा चाहिए हो तो… हो तो हथेलियों पर लौंग का धुंआ लगाये l
  • पूरी तरह सूखने के बाद हाथों को अच्छी तरह पानी से धो लें।
  • अगर रात के समय मेहंदी लगा रहीं हैं, तो सुबह उठकर मेहंदी को रगड़कर निकालें, फिर इस पर तेल लगा ले l

लगाये छपे वाली मेहंदी                              

इस पारंपरिक मेहंदी के अलावा भी बाजार में छापे वाली मेहंदी उपलब्ध होती है, जो एक दिन के लिए लगाई जा सकती है। इसका रंग काफी गहरा होता है, लेकिन इसमें केमिकल होने की आशंका से यह हथेलियों को नुकसान भी पंहुचा सकती है lआप इन्हें इस्तेमाल करने से पहले थोड़ी सी मेहंदी अपनी स्किन पर लगा कर देखे ,अगर कोई एल हो तो ही इनका इस्तेमाल करे l