पति – पत्नी और Smart Phone

टेक्नो– फ्रेंडली होना आज की ज़रूरत है लेकिन इस चक्कर में अक्सर हम सब भूल जाते हैl क्या आप जानते है की टेक्नोलॉजी हमारे बेडरूम में घुस कर हमारे दांपत्य जीवन की कातिल बनती जा रही है और जब तक इसका अहसास होता है रिश्तो में खटास आ जाती है l

हम अपने रिश्तो को बनाये रखने के लिए क्या क्या नहींकरते है l एक दुसरे के साथ वक़्त बिताते है ,छोटी छोटी चीजों में खुशिया ढूँढते है l लेकिन जब आमने सामने होकर भी एक दुसरे से बात करने का मन न करे, दोनों अपनी अपनी दुनिया में मग्न हो तो आप समझ लीजिये आपके बिच किसी तसरे ने जगह बना ली है l और यह तीसरा और कोई नहीं बल्कि आपका स्मार्ट फ़ोन है l

स्मार्ट फ़ोन  Smart phone का निजी लाइफ पर असर

यह मान सकते है की आज युवा वर्ग ज्यादा से ज्यादा समय स्मार्ट फ़ोन Smart phone पर और टेबलेट्स पर बिता रहा है शुरू में तो यह ज़रूरत होती है पर बाद में यह लत बन जाती है जसकी वजह से दंपत्ति भी आमने सामने बैठ कर बात करने की बजाये ,सोशल मीडिया परचैटकरने में बिजी रहते है l वे बेडरूम से लेकर बाथ रूम तक भी बिना स्मार्ट फ़ोन के नहीं रह पाते ,जिससे उनकी लाइफ पर बुरा असर पड़ता है l

कही स्मार्ट फ़ोन  Smart phone आपको बीमार तो नही बना रहा

स्मार्ट फ़ोन एक लत है l इस लत के शिकार ‘नोमोफोबिया’ के पीड़ित है जिसका मतलब है फ़ोन का एडिक्शन l ऐसे में मरीज का फ़ोन कही गुम हो जाये तो उसे घबराहट होने लगती है इसका लॉन्ग टर्म इफेक्ट होता है lअटेंशन कमी होने लगती है काम पर असर होने लगता है फोकस पहले से खराब होने लगता है l

संबंधो पर भारी एप्स

स्मार्ट फ़ोन पर उपलब्ध ढेरो एप्स से दुनिया में कनेक्टिविटी बढ़ रही है और यहाँ जानने का सभी को क्रेज़ होता ही हैकी कोन से फ्रेंड ने क्या कमेंट और पोस्ट डाली ,कोन ऑनलाइन है या हमारी पोस्ट को कितने लाइक्स मिले , दरअसल सोशल मीडिया से कनेक्ट होकर हम पुराने दोस्त और करीबी रिश्तेदारों से भी कनेक्ट हो जाते है जो की आज के समय में एक दुर्लभ चीज़ है और इनसब में उलझ कर हम इतने व्यस्त हो जाते है की इससे हमारी पर्सनल लाइफ भी प्रभावित हो रही है l

अगर बचाना है रिश्ता

दांपत्य जीवन की सफलता पति – पत्नीके बिच की अंडरस्टैंडिंग पर निर्भर करती है यह तभी संभव होसकता है जब दोनों साथ मिल कर समय बिताये l एक दुसरे को ज्यादा से ज्यादा समझने की कोशीश करे lस्मार्ट ने अगर दुरी बाढा दी हो तो अभी भी देरी नहीं हुई है lसबसे पहले घर से इन्टरनेट कनेक्शन हटवाये या फिर ज़रूरत के अनुसार इस्तेमाल करे lअपने जीवन साथी के साथ कही आउटिंग पर जाये lएक दुसरे के साथ अपनी बाते और समस्याए बाटे फिर देखे आप के बिच में से यह तीसरा परसन केसेगायब हो जाता है l