आँखों की एलर्जी के लक्षणों को पहचानिए

आंखे यह हमें दिया गया इश्वर का वरदान है जिनकी हिफाजत हमें हर हाल में करना होगी lहवा की तेज़ी से आँखों में गया एक कण मात्र भी कुछ देर के लिए हमें पीड़ा ओर विचलन की स्तिथि में डाल सकता है ऐसे में अगर कोई जलन या कोई तालीफ़ आँखों में लम्बे समय के लिए ठिकाना बना ले तो , तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेवे l

एलर्जी के लक्षणों पर रखे नज़र

एलर्जी से जुड़े कई सारे लक्षण सामने आते है इन्हें लेकर लक्षणों के प्रबंधन के उपाय किये जाने ज़रूरी है कई बार तो सामान्य घरेलु उपाय से ही फायद हो जाता है अगर आपको भी अपनी आँखों में इनमे से कोई लक्षण दिखे तो तुरंत चिकित्सक से परामर्श लेवे :-

  • आँखों में जलन
  • आँखों का आना
  • आँखों का लाल ओ जाना
  • आँखों से चिपचिपे द्रव्य का निकलना
  • दर्द होना
  • किरकिराहट होना ,
  • खुजली होना
  • पानी निकलना
  • नज़र का धुंधला होना
  • ज्यादा रौशनी में तकलीफ होना आदि

इनमे से यदि आपको कोई भी लक्षण एक नियत समय समय से ज्यादा परेशां करता है तो आप डॉक्टर को जरुर दिखाए ,ताकि आपकी अनमोल आँखों को कोई परेशानी न हो सके l

ऐसे रखे अपनी आँखों का ख्याल

आँखों को ऐसी मुश्किलों से बचाए रखने के लिए और तकलीफ को कम रखने के लिए ध्यान देना आवश्यक है इसके लिए कुछ खास बातो का ध्यान रखे जैसे :-

  • हमेशा अच्छे से हाथ धोने की आदत डाले और हाथो को बार – बार आँखों पर न लगाये उंगलियों से आँखों को रगड़ने और मसलने से बचे l
  • यदि आँखों से लगातार पानी या द्रव्य निकल रहा हो तो किसी साफ़ या मुलायम कॉटन के कपडे से हलके हलके से हप्थापकर पोछे l फिर इन हाथो को अच्छे से धोने के बाद ही कही और लगाये l
  • तकलीफ के दौरान और उसके कुछ देर बाद भी आँखों पर मेकअप लगाने से बचे यदि आप कांटेक्ट लैंस पहनते है तो संक्रमण के समय उन्हें निकल कर रख दे l
  • यदि आपकी आंखे धुआ ,धुप ,धुल ,मिटटी ,हरियाली घास आदि के करा संक्रमित हुइ हो तो घर से बहार निकलते समय अच्छे सनग्लासेस का प्रयोग करे l
  • घर से बहार नकलने के अलावा घर में हमें सावधानि बर्ते जैसे किचन में या घर की सफाई करते समय धुल को आँखों के संपर्क में न आने दे ,डस्ट ,सॉफ्ट टॉयज आदि भी एलर्जी पैदा कर सकते है l
  • यदि आप पर बार बार एलर्जी का हमला होता है तो डॉक्टर की सलाह से कोई ऑय ड्राप अपने साथ रखे और तकलीफ होते ही उसका उपयोग करे l
  • यदि आपके पास एलर्जी की कोई दावा है जो डॉक्टर ने दी हो ज्यादा तकलीफ होने पर ही उसका सेवन करे l
  • एलर्जी से बचाव के मद्देनज़र पहले से टिका भी लगवाया जा सकता है l
  • अपने इम्यून सिस्टम को हेल्थी रखे ताकि कोई भी एलर्जी आपको आसानी से अपना शिकार न बना सके l